मगन की महेनत Motivational Story For Students In Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज के आर्टिकल में, मै आपको एक बहुत ही अच्छी Motivational Story For Students In Hindi सुनाने वाला हु।

मगन की महेनत Motivational Story For Students In Hindi.

तो यह कहानी की शरुआत होती है मगन नामके लड़के से, मगन और मगन का परिवार गुजरात के छोटे से शहर भावनगर में रहते थे। और मगन का परिवार बहुत ही गरीब था।

Motivational-Story-For-Students-In-Hindi

मगन के पिताजी सब्जी की लारी चलाते थे और अपने घर को चला रहे थे, एक बार मगन के पिताजी ने मगन को कहा कि, बेटा मगन अब ये सब्जी की लारी में हमारा घर ठीक से चल नहीं रहा है, तुम कुछ कमाओ तो अच्छा रहेगा।

Note: आप हमारी दुकान से ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते है, आपको Cash On Delivery के साथ फ्री शिपिंग भी मिलेगी और 7-day Easy Return: Shop Now – Rathod Creation

मगन समझदार था, अपने पिताजी की बात मानी और मुम्बई गया, मुम्बई जाकर बहुत सारी नोकरियो की interview दिए लेकिन मगन किसो में भी select नहीं हुआ।

फिर मगन थक हार कर, एक चाय की दुकान पर बैठा, और अपने लिए चाय मंगाई, चाय पीते-पिते मगन का ध्यान अख़बार पर गया और अख़बार पढ़ने लगा, अखबार में मगन को एक चपरासी की advertisement दिखी।

Motivational-Story-chai

फिर मगन तुरन्त उस चपरासी की नोकरी प्राप्त करने के लिए उनकी मैन office mumbai कोलाबा पहुँच गया। मगन को कुछ समझ में नहीं आ रहा था, क्योकि वह मुम्बई पहेली बार आया था, फिर मगन ने उस office के किसी employee को पूछा की मुझे चपरासी की नोकरी चाहिए।

यह सुनकर वह employee बोला, ये लिजिए आप यह फॉर्म भर दीजिये, फिर आपको interview के लिए बुलाया जाएगा।

मगन ने वह फॉर्म तुरन्त भर दिया, और वापस उस employee के पास गया और कहा कि मोटा भाई मेने यह फॉर्म भर दिया है, अभी मुझे क्या करना है।

Employee बोला आप यहाँ 2 minute खड़े रहिये, में हमारे सर की permission लेकर आता हूं, मगन बोला कोई बात नहीं में यहाँ खड़ा हूँ। (Motivational Story For Students In Hindi)

2 minute के बाद वह employee ने मगन को कहा, आप interview देने जाइये।
फिर मगन सर की office में गया और सर को “जय श्री कृष्णा” कहा, सर ने कुछ जवाब नहीं दिया।

Motivational-Story-interview

फिर सर ने मगन से एक सवाल पूछा की मगन तुम मूल कहा के हो, मगन ने कहा कि सर में गुजरात के भावनगर शहर में रहता हूं।

फिर सर ने एक दूसरा सवाल पूछा की मगन तुम्हारे पिता क्या काम करते है, मगन बोला सर मेरे पिताजी सब्जी बेचने का काम करते है। यह सुनकर सर थोड़े हँसने लगे।

फिर सर ने वापस एक और सवाल पूछा, सर ने कहा कि मगन तुम यह नोकरी क्यों करना चाहते हो। इनका जवाब देते हुए मगन बोला, सर मेरे पिताजी ने मुझे कहा कि बेटा यह सब्जी बेचने में हमारा घर ठीक से चल नहीं रहा है तुम कुछ काम करो तो अच्छा रहेगा।

इसलिए में तुरन्त मुम्बई आ गया और नोकरी ढूंढने लगा, फिर मुझे आपकी ads अख़बार में पढ़ी, और में तुरन्त यहाँ interview देने पहुच गया।

सर बोले ठीक है चलो अब मुझे तुम्हारा फॉर्म दो, मगन ने फॉर्म सर को दिया, सर ने वह फॉर्म अच्छे से पढ़ा लेकिन मगन ने उस फॉर्म में अपनी Email ID नहीं लिखी थी।

Motivational-Story-email

यह देख कर सर बोले, अरे मगन तुमने यह form में अपना Email ID क्यों नहीं लिखा है, मगन बोला सर वो क्या होता है, मुझे नहीं पता की Email ID क्या होता है। (Motivational Story For Students In Hindi)

यह सुनकर सर थोड़े गुस्से हो गए, और कहने लगे की तुम्हे Email ID के बारे में पता नहीं है।
मगन बोला सर लेकिन Email ID के सिवाय मेरी बाकि सब चीज तो ठीक है ना, कृपया मुझे चपरासी की नोकरी दे दीजिए।

सर गुस्से में आकर बोले, इस ज़माने में किसी के पास अपना Email ID नहीं है उसका इस ज़माने में कोई अस्तित्व ही नहीं है। में तुम्हे दो दिन का समय देता हूं अपना Email ID लिख कर यह फॉर्म सबमिट कराओ नहितर में यह नोकरी किसी और को दे दूंगा।

फिर मगन ने अपने पिताजी को call किया, पिताजी ने फोन उठा कर कहा मगन बेटा नोकरी मिली तुजे, मगन बोला पापा ये लोग तो Email ID मांग रहे है, यह सुनकर मगन के पिताजी बोले ये Email ID क्या होता है?

मगन के पिताजी बोले बेटा तुम चिंता मत करना में किसी के पास Email ID ढूंढता हु, तुम्हारे पास पैसे है? मगन बोला हा 50 रूपये है।

फिर फोन रख दिया। पिताजी और बेटे दोनों इधर-उधर दौड़ने लगे सभी जगह जाकर लोगो से पूछने लगे की क्या आपके पास Email ID है? क्या आपके पास Email ID है? सभी ने मना कर दिया की हमारे पास Email ID नहीं है।

फिर रात हो गयी मगन के पास पैसे तो थे नहीं इसलिए मगन रास्ते पर ही सो गया, सुबह उठ कर मगन चाय वाले की दुकान पर चाय पीने गया, मगन ने चाय वाले से पूछा की भाई क्या आपके पास Email है, चाय वाला बोला नहीं भाई मेरे पास Email तो नहीं female जरूर है।

Motivational-Story-chai

यह सुनकर मगन हँसने लगा, फिर वह चाय वाला बोला तुम्हे Email ID चाइये, मगन बोला हा चाहिए, चाय वाला बोला – देखो सामने हनूमान जी का मंदिर के ठीक उसके डायने और cyber cafe है उधर आपको Email ID जरूर मिल जाएगी। (Motivational Story For Students In Hindi)

Motivational-Story-cyber-cafe

फिर तुरन्त मगन उस cyber cafe गया और कहा कि मुझे Email ID चाहिए, ये सुनकर वह
cyber cafe वाले भाई बोले अरे Email ID बनाना पड़ता है, ये सुनकर मगन बोला तो बनाके दो।

cyber cafe वाला बन्दा बोला ठीक है चलो उस computer पर बैठ जाओ, एक Email ID बनाने के 60 रूपये लगेंगे, लेकिन मगन के पास सिर्फ 40 रूपये ही थे, फिर मगन ने उस
cyber cafe वाले को कहा कि, में थोड़ी देर के बाद आता हूं, cyber cafe वाला बोला ठीक है।

फिर मगन चिंता में आ गया, सोचने लगा की में 20 रूपये का इंतजाम कहा से करू, दिर मगन के दिमाग में एक जबरदस्त idea आया।

मगन के पास जो 40 रूपये थे उन पैसे से मगन ने 2 किलो टमाटर खरीद लिए, और सबके घर जाकर वह टमाटर 30 रूपये के किलो में बेचने लगा।

Motivational-Story-tomato

10 मिनट के अंदर जो टमाटर मगन ने 40 रूपये के दो किलो लिए थे, वह टमाटर मगन ने लोगों के घर जाकर 60 रूपये के दो किलो बेचे।

फिर मगन के पास 60 रूपये आ गए, मगन ने उस 60 रूपये के वापस टमाटर खरीद लिए, और सबको घर-घर जाकर बेच दिए। देखते ही देखते मगन के पास 10,000 रूपये आ गए।

और 10,000 रूपये की अलग-अलग सब्जी खरीद ली, मगन को फिरसे प्रॉफिट हुआ, एक साल महेनत के बाद मगन ने मुंबई में अपनी खुदकी सब्जी की दुकान लगा दी।

Motivational-Story-Fruit

और 5 साल के अंदर मगन एक successful business men बन गया। मगन के पास मुम्बई में अपना खुदका घर भी खरीद लिया था।

एक दिन पत्रकार ने मगन का interview लिया, उस interview में पत्रकार ने मगन से सवाल पूछा की क्या यह सच है कि आप यह ज़माने में Email ID नहीं रखते?

मगन ने कहा जी यह 100% सच है में Email ID नहीं रखता, पत्रकार पूछा आप Email ID क्यों नहीं रखते। (Motivational Story For Students In Hindi)

मगन ने यह सवाल का जवाब देते हुए कहा कि, एक बड़े सर ने मुझे कहा था कि यदि आपके पास अपना खुदका Email ID नहीं है तो, आपका इस ज़माने में कोई अस्तित्व नहीं है।

और उस पत्रकार को मगन ने वह फॉर्म दिखाया और कहा कि अगर मेरे पास अपना Email ID
तो में आज साधरण सी चपरासी की नोकरी कर रहा होता।

और इसी तरह हमारी Motivational Story For Students In Hindi यहाँ पर खत्म होती है, यदि आपको यह Motivational Story पसन्द आयी हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना बिलकुल न भूले।

Leave a Reply